Homeopathy for causation symptoms

Homeopathic medicines of causations symptoms

sycosis के इतिहास के साथ रात्री शय्या मूत्रण – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

vulvar खुजली से गर्भपात – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

अंडकोश के रगडने से लिंग का उत्तेजित हो जाना – CROTON TIGLIUM 30C ( दिन में तीन बार )

अंडे के बाद दस्त – CHININUM ARSENICOSUM 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

अचानक बुरी खबर से गर्भपात – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अतिरंजित कल्पना से अतिसार – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

अधिक काम करने पर भूख कम लगना – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

अधिक काम से रीढ़ में जलन – PICRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

अनैच्छिक, बढ़े हुए प्रोस्टेट के साथ पेशाब – IODIUM (IODUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अपच से सेमिनल उत्सर्जन – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अपच से होने वाली परेशानी – IPECACUANHA (IPECA) 200C ( हफ्ते में एक बार )

अपने मित्रों की हानि से पीड़ा – NITRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

अपरिपक्व फलों से बीमारियाँ – RHEUM PALMATUM (RHEUM) 6C (दिन में तीन बार)

अपूर्ण आत्मसात से कम पोषण की शिकायत – SILICEA TERRA (SILICEA) 6C (दिन में तीन बार)

अविकसित गर्भाशय से गर्भपात का डर – PLUMBUM METALLICUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अव्यवस्थित आंत्रवायु से उग्र घबराहट – COCA-ERYTHROXYLON COCA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अशुद्ध पानी पीने की शिकायत – ZINGIBER OFFICINALE (ZINGIBER) 6C (दिन में तीन बार)

असामान्य यौन इच्छाओं से शिकायत – HYDRASTIS CANADENSIS (HYDRASTIS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

अस्वास्थ्यकर जलवायु के कारण धीमा बुखार – AMMONIUM MURIATICUM 6C (दिन में तीन बार)

आँखों की सूजन के बिना फोटोफोबिया – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

आँखों के अधिक उपयोग से मंददृष्टि – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

आग लगने पर खांसी होना – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

आघात से गर्भपात – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

आघात से दोहरी दृष्टि – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

आदतन discharge के दमन से हिस्टीरिया – ASA FOETIDA (ASAFOETIDA) 6C (दिन में तीन बार)

आरक्षित नाराजगी का बुरा प्रभाव – AURUM MURIATICUM NATRONATUM 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

आश्चर्य से बीमारियाँ – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

आसानी से छोटे वजन उठाने से भी तनाव – CARBO ANIMALIS 30C ( दिन में तीन बार )

आहार की त्रुटियों से अवसाद – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

इंटरकोस्टल न्यूराल्जिया के बाद हर्पीज ज़ोस्टर – RANUNCULUS BULBOSUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

इन्फ्लूएंजा के बाद अनिद्रा – AVENA SATIVA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

इन्फ्लूएंजा को जटिल करने वाले तीव्र नेफ्रैटिस – EUCALYPTUS GLOBULUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

इस्त्री से सिरदर्द – BRYONIA ALBA (BRYONIA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

ईर्ष्या से आक्षेप – LACHESIS MUTUS (LACHESIS) 30C ( दिन में तीन बार )

उघाड़ने से शूल – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

उच्च ऊंचाई पर शिकायतें – COCA-ERYTHROXYLON COCA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उच्च ऊंचाई में सिरदर्द – COCA-ERYTHROXYLON COCA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उच्च रक्तचाप से नाक की रुकावट – IODIUM (IODUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उत्तेजना के बाद पसीना आना – BARYTA CARBONICA (BARYTA CARB) 30C ( दिन में तीन बार )

उत्तेजना के बाद मतली आना – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

उत्तेजना के बाद स्तन का दूध गायब हो जाता है – CAUSTICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

उत्तेजना से गर्भपात – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उन खेलों में सांस लेना चाहते हैं जो एथलेटिक खेलों में शामिल हैं – COCA-ERYTHROXYLON COCA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उपवास करते समय चिंता – IODIUM (IODUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

उपवास करते समय पीठ का दर्द – KALIUM NITRICUM (KALI NITRICUM – NITRUM) 30C ( दिन में तीन बार )

उपवास से खांसी – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

उल्टी से गर्भपात – IPECACUANHA (IPECA) 200C ( हफ्ते में एक बार )

ऊंचाई से गिरने से होने वाली बीमारियाँ – MILLEFOLIUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

ऊष्मा अधिक होने से स्वर बैठना – BROMIUM (BROMUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

एक प्रारूप से पीठ में जकडन – RHUS TOXICODENDRON 30C ( दिन में तीन बार )

एक्जिमा के पारिवारिक इतिहास के साथ शय्या मूत्रण – PSORINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

एनीमिया से दृष्‍टिहीनता – VERATRUM VIRIDE 6C (दिन में तीन बार)

ओटिटिस के बाद बहरापन – MERCURIUS SULPHURICUS, DRARG, OXYD, SUB-SULPH 30C ( दिन में तीन बार )

कंपकंपी से अनिद्रा – BRYONIA ALBA (BRYONIA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

कपड़ा धोने से दांत दर्द – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

कपड़े धोने के काम से आने वाली शिकायतें – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

कपड़ों के दबाव से Urticaria – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

कम बुखार से गर्भपात – BAPTISIA TINCTORIA (BAPTISIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

कमजोरी और एनीमिया के कारण ल्यूकोरिया – ALETRIS FARINOSA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

कमजोरी के कारण गर्भाशय का बहार को आना – SULPHURICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

कमजोरी से गर्भनाल को बनाये रखना – SABINA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

कमजोरी से दबा हुआ मासिक धर्म – NUX MOSCHATA 6C (दिन में तीन बार)

काली मिर्च से खांसी – ALUMINA 30C ( दिन में तीन बार )

कीड़े से दांत पीसना – CINA MARITIMA (CINA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

कुत्ते के काटने के बाद सिरदर्द – LYSSINUM (HYDROPHOBINUM) 30C ( दिन में तीन बार )

कैथीटेराइजेशन के बाद रात्री शय्या मूत्रण – MAGNESIUM PHOSPHORICUM (MAGNESIA PHOSPHORICA) 6C (दिन में तीन बार)

कैथेटर के बाद बुखार – ACONITUM NAPELLUS 3C (दिन में तीन बार)

कॉफ़ी पीने से उत्तेजित सिर तक रक्त का संचार – CIMICIFUGA RACEMOSA (CIMICIFUGA – ACTAEA RACEMOSA – MACROTYS) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

कॉर्निया के अस्पष्ट से अंधापन – APIS MELLIFICA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

कोमा, दबा हुआ विस्फोट से – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

कोल्ड ड्रिंक के बाद कान में आवाज आना – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

कोल्ड ड्रिंक के बाद वर्टिगो – COLCHICUM AUTUMNALE (COLCHICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

क्रूरताओं की सुनवाई के बाद चिंता – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

क्रोध के बाद स्तन का दूध गायब हो जाता है – CHAMOMILLA 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

क्षरणग्रस्त दांतों से और निष्कर्षण के बाद से तंत्रिका संबंधी दर्द – HECLA LAVA (HEKLA LAVA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

खरबूजे से बीमारियाँ – ZINGIBER OFFICINALE (ZINGIBER) 6C (दिन में तीन बार)

खराब बीयर से बीमारियाँ – NUX MOSCHATA 6C (दिन में तीन बार)

खराब ब्रांडी से बीमारियाँ – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

खसरे को दबाने के बाद बहरापन – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

खांसी से चिड़चिड़ापन – CINA MARITIMA (CINA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

खाज को दबाने के बाद खांसी – PSORINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

खाने के बाद कपड़ों के प्रति पेट संवेदनशील – GRAPHITES 30C ( दिन में तीन बार )

खाने के लिए बाध्य होने पर गुस्सा करना – ARSENICUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

खीरे से पेट में दर्द – ALLIUM CEPA 3C (दिन में तीन बार)

खुजली से निराशा – PSORINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

खुजली से हस्तमैथुन – ORIGANUM MAJORANA (ORIGANUM) 3C (दिन में तीन बार)

खुरचने से गर्भाशय से रक्तस्राव – CALENDULA OFFICINALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गंदी दुर्गंध से बुरा प्रभाव – ANTHEMIS NOBILIS 3C (दिन में तीन बार)

गंधों से छींक आना – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

गंधों से बेहोशी – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

गर्भधारण में खांसी गर्भपात का डर – RUMEX CRISPUS 6C (दिन में तीन बार)

गर्भपात के बाद Oophoritis – SABINA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्भपात के बाद आक्षेप – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

गर्भपात के बाद जेर – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

गर्भपात के बाद डेलीरियम – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

गर्भपात के बाद स्तन की जलन – LAC CANINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

गर्भपात के बाद होने वाली सूजन – PSORINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

गर्भस्थ शिशु की हल्की गति से बेहोशी – LACHESIS MUTUS (LACHESIS) 30C ( दिन में तीन बार )

गर्भाधान के बाद गर्भाशय की खराबी – HELONIAS DIOICA (HELONIAS – CHAMAELIRIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्भावस्था के दौरान गुदा का बाहर निकलना – PODOPHYLLINUM (PODOPHYLLUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्भावस्था के दौरान मूत्राशय के लक्षण – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गर्भाशय की कमजोरी के कारण मासिक धर्म में देरी होती है – THLASPI BURSA PASTORIS (CAPSELLA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्भाशय के दबाव से चिड़चिड़ा मूत्राशय – ERIGERON CANADENSE (ERIGERON – LEPTILON CANADENSE) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्भाशय के विस्थापन से दमा – NITRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

गर्म कमरे में फोटोफोबिया – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म गीले मौसम से होने वाली बीमारियाँ – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गर्म चूल्हे से होने वाली बीमारियाँ – GLONOINUM 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म दिनों के बाद ठंडी रातों से पेचिश – IPECACUANHA (IPECA) 200C ( हफ्ते में एक बार )

गर्म पानी में हाथ डालते समय मतली आना – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म पेय से अतिसार होता है – FLUORICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म भोजन से उल्टी होना – LOBELIA INFLATA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्म स्नान से दबा हुआ मासिक धर्म – AETHUSA CYNAPIUM 30C ( दिन में तीन बार )

गर्म होने के बाद भीगने के बुरे प्रभाव – BELLIS PERENNIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गर्म होने पर सिर का कसाव – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गर्म होने से सिर की ठंडक – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गर्मी की तपिश से बेहोशी – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

गलत कदम से मस्तिष्क की चिंता – LEDUM PALUSTRE (LEDUM) 30C ( दिन में तीन बार )

गले में दर्द के कारण बहरापन – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गाड़ी की सवारी से कब्ज – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

गाड़ी में सवार होने से बीमारियाँ – LYCOPODIUM CLAVATUM (LYCOPODIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

गीले तूफानी मौसम के दौरान बीमार भाव – AMMONIACUM GUMMI (AMMONIACUM-DOREMA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गुर्दे से उत्पन्न मतली – SENECIO AUREUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

गैस की रोशनी में काम करने से होने वाली परेशानी – GLONOINUM 30C ( दिन में तीन बार )

गैस लाइट से वर्टिगो – CAUSTICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गोनोरिया के लगातार हमलों के बाद नपुंसकता – AGNUS CASTUS 6C (दिन में तीन बार)

गोभी के बाद दस्त – BRYONIA ALBA (BRYONIA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

गोभी से बीमारियाँ – LYCOPODIUM CLAVATUM (LYCOPODIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

गोमांस के बाद सिरदर्द – STAPHYSAGRIA 30C ( दिन में तीन बार )

ग्लूकोमा आंखों के बहने से – PHYSOSTIGMA VENENOSUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

ग्लूकोमा में कमजोर दृष्टि – OSMIUM 6C (दिन में तीन बार)

घबराहट से बचाता है – OPIUM (PAPAVER SOMNIFERUM) 30C ( दिन में तीन बार )

घबराहट से बोलने में असमर्थ – NAJA TRIPUDIANS 30C ( दिन में तीन बार )

घर से दूर रहने पर कब्ज – LYCOPODIUM CLAVATUM (LYCOPODIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

घाव से कॉर्नियल ऑपिसिटीज – EUPHRASIA OFFICINALIS (EYEBRIGHT) 6C (दिन में तीन बार)

घुड़सवारी से बीमारियाँ वापस – THERIDION CURASSAVICUM (THERIDION) 30C ( दिन में तीन बार )

चंद्रमा की रोशनी में भावुक मनोदशा – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

चर्च में घुटने टेकते समय बेहोश हो जाना – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

चलती वस्तुओं को देखने से सिरदर्द – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

चाय के बाद वर्टिगो – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

चावल से बीमारियाँ – KALIUM MURIATICUM (KALI MURIATICUM) 6C (दिन में तीन बार)

चिकन पॉक्स के बाद खांसी – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

चीनी के बाद हार्ट बर्न – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

चोट के बाद मोतियाबिंद – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

चोट लगने के बाद दस्त – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

चोट लगने के बाद नींद आना – OPIUM (PAPAVER SOMNIFERUM) 30C ( दिन में तीन बार )

चोट लगने के बाद सीने में दर्द – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

चोट लगने पर क्षय रोग – MILLEFOLIUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चोट से नेफ्रैटिस – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

चोट से बालों का गिरना – HYPERICUM PERFORATUM (HYPERICUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

चोटों से जम्हाई लेना – LACHESIS MUTUS (LACHESIS) 30C ( दिन में तीन बार )

छाती में यांत्रिक चोट लगने के बाद फेफड़े का क्षयरोग – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

छूने पर बच्चा चिड़चिड़ा हो जाता है – ANTIMONIUM TARTARICUM 6X (दिन में तीन बार)

छोटा भावावेश घबराहट का कारण बनता है – CALCAREA ARSENICOSA (CALCAREA ARSENICA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

छोटी सी बात से अचेतन – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

जब बहुत अधिक दवाई ने एक हाइपरसेंसिटिव अवस्था उत्पन्न की है और उपचार कार्य करने में विफल हो जाता है – PHOSPHORICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

जले हुवे से झटका – CANTHARIS VESICATORIA (CANTHARIS) 30C ( दिन में तीन बार )

जाड़े के बाद से बीमारियाँ – SANGUINARINUM NITRICUM (SANGUINARINA NITRICA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

जिम्नास्टिक में दिल की अतिवृद्धि – BROMIUM (BROMUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

ज़ुकाम के बाद गंध और स्वाद में कमी – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

ज्ञान दांतों की शिकायत – CALCAREA FLUORICA (FLUOR SPAR) 6X (दिन में तीन बार)

झूठे दांतों से मतली – COCCULUS INDICUS (COCCULUS) 30C ( दिन में तीन बार )

टाइफाइड के बाद कमजोरी – SELENIUM METALLICUM (SELENIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

टाइफाइड के बाद बाल गिरते हैं – SELENIUM METALLICUM (SELENIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

टाइफाइड बुखार में लीवर बड़ा हो जाता है – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

टीकाकरण के बाद एक्जिमा और खुजली होना – MEZEREUM 30C ( दिन में तीन बार )

टीकाकरण के बाद बांह मे दुर्बलता – MALANDRINUM 30C ( दिन में तीन बार )

टीकाकरण के बाद बुखार – SILICEA TERRA (SILICEA) 6C (दिन में तीन बार)

ट्यूमर को हटाने के बाद अल्सर – HYDRASTIS CANADENSIS (HYDRASTIS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

ठंड लगने से सांस फूलना और भारी होना – BRYONIA ALBA (BRYONIA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

ठंड से नपुंसकता – MOSCHUS 3C (दिन में तीन बार)

ठंड से नाभि के पास में दर्द काटना – DULCAMARA 30C ( दिन में तीन बार )

ठंडे पानी में धुलने पर पकता है – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

ठंडे पानी में हाथ डालकर दबाए गए मासिक धर्म – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

डर के बाद भूल जाना – CUPRUM METALLICUM 30C ( दिन में तीन बार )

डर से अपच – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

डर से गर्भपात – ACONITUM NAPELLUS 3C (दिन में तीन बार)

डर से पीलिया – ACONITUM NAPELLUS 3C (दिन में तीन बार)

डर से हाथ-पैर में दर्द – MERCURIUS SULPHURICUS, DRARG, OXYD, SUB-SULPH 30C ( दिन में तीन बार )

डांट से बेहोश होना – MOSCHUS 3C (दिन में तीन बार)

डायबिटीज अटैक के दौरान मासिक धर्म को दबा दिया जाता है – URANIUM NITRICUM 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

डायरिया से गर्भाशय का बहार को आना – PETROLEUM 30C ( दिन में तीन बार )

तंग पहनावे से रात्री शय्या मूत्रण – CINA MARITIMA (CINA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

तंबाकू के सेवन से नपुंसकता – CALADIUM SEGUINUM 6X (दिन में तीन बार)

तनाव के बाद Varicocele – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

तनाव के बाद फोटोफोबिया – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

तम्बाकू से दृष्‍टिहीनता – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

तम्बाकू से स्नायुशूल – PLANTAGO MAJOR Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

तरबूज के बाद पेट में दर्द – FLUORICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

तीव्र जलशीर्ष में बहरापन – HELLEBORUS NIGER (HELLEBORUS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

तीव्र बीमारी के बाद अनैच्छिक पेशाब – PSORINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

तीव्र रोगों के बाद पसीना आना – JABORANDI (PILOCARPUS MICROPHYLLUS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

थकावट के बाद मांसपेशियों में ऐंठन – MAGNESIUM PHOSPHORICUM (MAGNESIA PHOSPHORICA) 6C (दिन में तीन बार)

दबा बवासीर से पेट में दर्द – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

दबा सूजाक से गठिया – MEDORRHINUM 1M (बीस दिन में 1 बार)

दबा हुआ ल्यूकोरिया से बवासीर – AMMONIUM MURIATICUM 6C (दिन में तीन बार)

दबा हुआ विस्फोट से खांसी – DULCAMARA 30C ( दिन में तीन बार )

दबाए गए मासिक धर्म से जलोदर – SENECIO AUREUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दबाए गए मासिक धर्म से मूत्रमार्ग से रक्तस्राव – ZINCUM METALLICUM (ZINC) 6C (दिन में तीन बार)

दबाव से ऊतकों की कठोरता – SULPHUR 200C ( हफ्ते में एक बार )

दबे हुए मासिक धर्म से उन्माद – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

दबे हुए मासिक धर्म से हेमोप्टीसिस – SANGUINARIA CANADENSIS (SANGUINARIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दमित यौन उत्तेजना से अवसाद – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

दर्द से अवसाद – SARSAPARILLA OFFICINALIS (SARSAPARILLA) 6C (दिन में तीन बार)

दर्द से मौत का डर – COFFEA CRUDA 30C ( दिन में तीन बार )

दर्द से लकवा – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

दर्दनाक इरीसिपेलस – CALENDULA OFFICINALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दांत साफ करने पर उल्टी होना – COCCUS CACTI 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

दिल की बीमारी के कारण हीमोप्टाइसिस – LYCOPUS VIRGINICUS 30C ( दिन में तीन बार )

दिल के वाल्वुलर रोगों से मिर्गी – CALCAREA ARSENICOSA (CALCAREA ARSENICA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

दु: ख के बाद गिरते बाल – PHOSPHORICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दु: ख के बाद फोटोफोबिया – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

दु: ख से एनीमिया – PHOSPHORICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दु: ख से गर्भपात – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

दु: ख से दबा हुआ मासिक धर्म – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

दुःख माहवारी को लाता है – COLOCYNTHIS 30C ( दिन में तीन बार )

दुःख से दृष्‍टिहीनता – CROTALUS HORRIDUS 6C (दिन में तीन बार)

दुःख से बेहोश होना – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

दुख से पीलिया – PHOSPHORICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दुखद कहानियों से दुःख – CICUTA VIROSA 30X

दुखद घटनाओं से अनिद्रा – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

दुखद समाचार से नींद आना – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

दुर्घटना के बाद अनिद्रा – STICTA PULMONARIA (STICTA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दुर्भाग्यपूर्ण प्रेम से कमजोरी – PHOSPHORICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दूध के बाद कमजोरी – SULPHURICUM ACIDUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

दूध पीने से मासिक धर्म दब जाता है – LAC VACCINUM DEFLORATUM (LAC DEFLORATUM) 30C ( दिन में तीन बार )

दूध से त्वचा की एलर्जी – TUBERCULINUM 200C ( हफ्ते में एक बार )

धार्मिक उत्तेजना से आक्षेप – VERATRUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

धूप में चलने से बुखार – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

धूप में भ्रम – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

नई निराशा से बीमारियाँ – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

नए जन्मे बच्चों में नाभि के घाव – APIS MELLIFICA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

नम भूमि पर लेटने से लकवा – RHUS TOXICODENDRON 30C ( दिन में तीन बार )

नर्वस प्रॉस्टिट्यूट से नपुंसकता – DAMIANA (TURNERA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

नाचने से सिरदर्द – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

निराश प्यार के बाद यौन इच्छा बढ़ गई – VERATRUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

निराश प्रेम से पागलपन – TARENTULA HISPANICA 30C ( दिन में तीन बार )

नींद न आने के बाद अनिद्रा – COCCULUS INDICUS (COCCULUS) 30C ( दिन में तीन बार )

नींद न आने के बाद चक्कर आना – COCCULUS INDICUS (COCCULUS) 30C ( दिन में तीन बार )

नींबू पानी से सिरदर्द – SELENIUM METALLICUM (SELENIUM) 30C ( दिन में तीन बार )

नेत्रगोलक को हटाने के बाद तंत्रिकाशूल – MEZEREUM 30C ( दिन में तीन बार )

परिश्रम से जोड़ों में सूजन – CIMICIFUGA RACEMOSA (CIMICIFUGA – ACTAEA RACEMOSA – MACROTYS) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पसीने से तर-बतर के बात जलोदर – DULCAMARA 30C ( दिन में तीन बार )

पानी के पास उगने वाले पौधों को भी नहीं खा सकते हैं – NATRIUM SULPHURICUM (NATRUM SULPHURICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पानी में काम करने से बहरापन – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

पिछले बच्चे के जन्म के बाद से सेक्स का विरोध – LYSSINUM (HYDROPHOBINUM) 30C ( दिन में तीन बार )

पीड़ा से आत्मघाती स्वभाव – AURUM MURIATICUM NATRONATUM 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पीने के बाद चिंता – CIMEX LECTULARIUS (CIMEX – ACANTHIA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पीलिया में कोमा – CHELIDONIUM MAJUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पीलिया से दबा हुआ मासिक धर्म – CHIONANTHUS VIRGINICA (CHIONANTHUS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पुरानी निराशा से बीमारियाँ – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

पेट फूलना दिल की क्रिया को बिगाड़ देता है – ABIES CANADENSIS-PINUS CANADENSIS 3C (दिन में तीन बार)

पैर रगड़ने पर प्रभावकारी – ALLIUM CEPA 3C (दिन में तीन बार)

पैरों को उजागर करने से शिकायत – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

पोर्क के बाद गैस्ट्रिक की शिकायत – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

पोर्टल बाधा के कारण क्रोनिक नाक, ग्रसनी और जठरांत्र – COLLINSONIA CANADENSIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

पोस्ट ऑपरेटिव गैस दर्द – RAPHANUS SATIVUS (RAPHANUS) 30C ( दिन में तीन बार )

प्याज से होने वाली बीमारियाँ – THUJA OCCIDENTALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

प्रियजनों की मौत से बीमारियाँ – AMBRA GRISEA 3C (दिन में तीन बार)

प्लम के बाद पेट में दर्द – RHEUM PALMATUM (RHEUM) 6C (दिन में तीन बार)

प्लीहा की परेशानी से खांसी – CARDUUS MARIANUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

फंडस की कमजोरी से मूत्र की अवधारण – TEREBINTHINIAE OLEUM (TEREBINTHINA) 6C (दिन में तीन बार)

फूलों की महक से उदासी – HYOSCYAMUS NIGER (HYOSCYAMUS) 30C ( दिन में तीन बार )

फोड़े-फुंसी से अल्सर – CALCAREA PHOSPHORICA 6X (दिन में तीन बार)

फ्लैटस से चिंता – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

फ्लैटस से मूत्राशय में दर्द – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

बच्चा मुंह और गले की खराश के कारण खाने-पीने से मना करता है – ARUM TRIPHYLLUM 30C ( दिन में तीन बार )

बच्चे के जन्म के बाद पक्षाघात – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

बच्चों में एडेनोइड्स को हटाने के बाद समस्या – CARCINOSINUM (CARCINOSIN) 200C ( हफ्ते में एक बार )

बढ़े हुए प्रोस्टेट से रिबन की तरह मल – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

बर्न्स में मवाद डिस्चार्ज के साथ अल्सर होता है – CARBOLICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

बवासीर को हटाने के बाद मलाशय से रक्तस्राव – NITRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

बवासीर से मलाशय की जकडन – BAPTISIA TINCTORIA (BAPTISIA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

बात करने से सिर मे जमाव – COFFEA CRUDA 30C ( दिन में तीन बार )

बातचीत से चिंता – AMBRA GRISEA 3C (दिन में तीन बार)

बातचीत से बुखार – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

बावशीर का पुराना अनुक्रम – STRONTIUM CARBONICUM (STRONTIA) 6X (दिन में तीन बार)

बिजली से वर्टिगो – CROTALUS HORRIDUS 6C (दिन में तीन बार)

बुखार से दबा हुआ मासिक धर्म – CIMICIFUGA RACEMOSA (CIMICIFUGA – ACTAEA RACEMOSA – MACROTYS) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

बुरी खबर से चक्कर – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

बुरी खबरों से ठंड लगना – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

बुरी खबरों से डायरिया – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

बुरी खबरों से पसीना आना – CALCAREA PHOSPHORICA 6X (दिन में तीन बार)

बुरी गंध से उल्टी होना – KREOSOTUM 30C ( दिन में तीन बार )

बोतल से दूध पीने वाले शिशु मे दुर्बलता – NATRIUM PHOSPHORICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

भय के बाद दमा – CUPRUM METALLICUM 30C ( दिन में तीन बार )

भय के बाद मूत्र त्यागना – ACONITUM NAPELLUS 3C (दिन में तीन बार)

भारी भोजन से खांसी – CUPRUM METALLICUM 30C ( दिन में तीन बार )

भारी वजन उठाने से खांसी – AMBRA GRISEA 3C (दिन में तीन बार)

भावनाओं के बाद चक्कर – ACONITUM NAPELLUS 3C (दिन में तीन बार)

भावनाओं से उल्टी होना – KALIUM BROMATUM (KALI BROMATUM) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

भीगने के बाद आसानी से बेहोशी – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

भीगने के बाद चेहरे का पक्षाघात – CAUSTICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

भोजन की गंध से उल्टी होना – STANNUM METALLICUM (STANNUM) 30C ( दिन में तीन बार )

भ्रूण की गति नींद में खलल डालती है – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

भ्रूण की गति से मतली और उल्टी – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

भ्रूण की दर्दनाक गति से अनिद्रा – ARNICA MONTANA (ARNICA) 30C ( दिन में तीन बार )

मक्खन से बीमारियाँ – CARBO VEGETABILIS 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

मछली और सिरका खाने के बाद पेट में दर्द – FLUORICUM ACIDUM 30C ( दिन में तीन बार )

मछली खाने से खांसी – LACHESIS MUTUS (LACHESIS) 30C ( दिन में तीन बार )

मजबूत गंध से खांसी – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

मधुमेह में बढ़े हुए जिगर – NATRIUM SULPHURICUM (NATRUM SULPHURICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

मधुमेह में मंद दृष्टि – TARENTULA HISPANICA 30C ( दिन में तीन बार )

मधुमेह से नपुंसकता – MOSCHUS 3C (दिन में तीन बार)

मलाशय के कैंसर के साथ दस्त – CARDUUS MARIANUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

मसालों के दुरुपयोग से शिकायतें – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

मसालों से होने वाले दस्त – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

मस्तिष्क में ट्यूमर से होने वाले संक्रमण – PLUMBUM METALLICUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

मस्तिष्क रोगों से सिरदर्द – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

महिलाओं के बारे में बात करने से सेमिनल उत्सर्जन – USTILAGO MAYDIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

महिलाओं के स्पर्श पर सेमिनल उत्सर्जन – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

मांस के बाद Urticaria – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

मांस के बाद खांसी – STAPHYSAGRIA 30C ( दिन में तीन बार )

मांस खाने के बाद खुजली – RUMEX CRISPUS 6C (दिन में तीन बार)

माता-पिता और दोस्तों के बीच कलह से होने वाली बीमारियाँ – GRAPHITES 30C ( दिन में तीन बार )

माता-पिता के अत्यधिक नियंत्रण के लंबे इतिहास से बीमारियाँ – CARCINOSINUM (CARCINOSIN) 200C ( हफ्ते में एक बार )

मादक पेय के बाद आक्षेप – RANUNCULUS BULBOSUS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

मानसिक परिश्रम से खुजली – AGARICUS MUSCARIUS (AGARICUS MUSCARIUS-AMANITA) 30C ( दिन में तीन बार )

मानसिक परिश्रम से तीव्र साँसे – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

मानसिक परिश्रम से हाथ-पैर में दर्द – COLCHICUM AUTUMNALE (COLCHICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

मामूली घावों से बेहोशी – IGNATIA AMARA (IGNATIA) 30C ( दिन में तीन बार )

मामूली चोट के बाद अल्सर – MANGANUM ACETICUM 30C ( दिन में तीन बार )

मामूली शोर पर डर से सेमिनल उत्सर्जन – ALOE SOCOTRINA (ALOE) 30C ( दिन में तीन बार )

मासिक धर्म का प्रवाह कम उत्तेजना के साथ होता है – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

मिट्टी में काम करने से शिकायत – CALCAREA CARBONICA (CALCAREA CARBONICA – OSTREARUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

मुंह के सूखने से नींद नींद मे रुकावट – KALIUM CARBONICUM (KALI CARBONICUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

मुख्य और अधीनस्थों के बीच कलह से होने वाली बीमारियाँ – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

मेनिन्जियल जलन से कठोर मांसपेशियाँ – PHYSOSTIGMA VENENOSUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

मैन्स की उपस्थिति से इतनी कमजोर होने के बाद वह शायद ही बोल सके – STANNUM METALLICUM (STANNUM) 30C ( दिन में तीन बार )

मोच से अपच – RUTA GRAVEOLENS 6C (दिन में तीन बार)

मोमबत्ती की रोशनी से कोमा – CANNABIS INDICA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

यकृत संबंधी विकारों के आधार पर खांसी – AESCULUS HIPPOCASTANUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

युवा विवाहित महिलाओं में चिड़चिड़ा मूत्राशय – STAPHYSAGRIA 30C ( दिन में तीन बार )

योनि का संकुचन से सेक्स से बचना – CACTUS GRANDIFLORUS (SELENICEREUS SPINULOSUS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

योनि से श्लेष्मा का स्त्राव होता है जिससे बाँझपन होता है – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

यौन अधिकता के बाद खूनी पेशाब – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

यौन अधिकता से दृष्‍टिहीनता – PHOSPHORUS 30C ( दिन में तीन बार )

यौन अधिकता से दोहरी दृष्टि – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

यौन शक्ति के दुरुपयोग से समय से पहले बुढ़ापा – AGNUS CASTUS 6C (दिन में तीन बार)

“* यौन शोषण से घबराया हुआ

दिखना – STAPHYSAGRIA 30C ( दिन में तीन बार )”

रंगीन कांच के माध्यम से प्रकाश चमक से वर्टिगो – ARTEMISIA VULGARIS 3C (दिन में तीन बार)

रक्त को देखने से बेहोशी – NUX MOSCHATA 6C (दिन में तीन बार)

रक्तस्राव के बाद एडिमा – CHINA OFFICINALIS (CINCHONA OFFICINALIS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

रजोनिवृत्ति के बाद वर्टिगो – CONIUM MACULATUM (CONIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

रात्री शय्या मूत्रण, जहां आदत एकमात्र ज्ञात कारण है – EQUISETUM HYEMALE (EQUISETUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

रीढ़ पर चोट के बाद अस्थमा – HYPERICUM PERFORATUM (HYPERICUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

रीढ़ पर दोहन से सिरदर्द – CINA MARITIMA (CINA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

रोटी से बीमारियाँ – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

लंबे समय तक रुकने से पीठ का दर्द – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

लकड़ी का कोयला धूआं के कारण श्वासावरोध – BOVISTA LYCOPERDON (BOVISTA) 6C (दिन में तीन बार)

ललाट साइनस के बंद होने के कारण सिरदर्द – AMMONIACUM GUMMI (AMMONIACUM-DOREMA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

लैप्रोटॉमी के बाद दर्द – STAPHYSAGRIA 30C ( दिन में तीन बार )

लोहे के टॉनिक का बुरा प्रभाव – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

ल्यूकोरिया का गर्भावस्था को रोकना – CAULOPHYLLUM THALICTROIDES (CAULOPHYLLUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

वसा युक्त भोजन से खांसी – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

वसा वाले भोजन के बाद बासीपन का होना – THUJA OCCIDENTALIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

विक्षिप्त युवक में तम्बाकू के कारण टैचीकार्डिया – AGNUS CASTUS 6C (दिन में तीन बार)

विदेशी निकायों से दमा – ANTIMONIUM TARTARICUM 6X (दिन में तीन बार)

विलासिता से बीमारियाँ – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

विस्थापित गर्भाशय से अधिक मासिक धर्म – TRILLIUM PENDULUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

वील खाने से डायरिया – KALIUM NITRICUM (KALI NITRICUM – NITRUM) 30C ( दिन में तीन बार )

व्यवसाय से मन की उदासीनता – PODOPHYLLINUM (PODOPHYLLUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

व्यापारिक शर्मिंदगी के बाद नींद हराम – AMBRA GRISEA 3C (दिन में तीन बार)

शराब के बाद पेट में दर्द – LYCOPODIUM CLAVATUM (LYCOPODIUM) 200C ( हफ्ते में एक बार )

शराब के सेवन के बाद ठंड लगना – LEDUM PALUSTRE (LEDUM) 30C ( दिन में तीन बार )

शराब पीकर हंगामा करने की शिकायत – CALCAREA ARSENICOSA (CALCAREA ARSENICA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

शराब से वैरिकाज़ नसों – CORALLORHIZA ODONTORHIZA (CORALLORHIZA) 30C ( दिन में तीन बार )

शराब से सिर मे जमाव – SILICEA TERRA (SILICEA) 6C (दिन में तीन बार)

शराबियों में अस्थमा – MEPHITIS PUTORIUS (MEPHITIS) 3C (दिन में तीन बार)

शराबियों में सांस लेना मुश्किल – COCA-ERYTHROXYLON COCA Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

शेविंग के बाद वर्टिगो – CARBO ANIMALIS 30C ( दिन में तीन बार )

शैल मछली के बुरे प्रभाव – URTICA URENS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

श्रमिकों के बीच कलह से होने वाली बीमारियाँ – ARSENICUM ALBUM 30C ( दिन में तीन बार )

संक्रामक रोगों के बाद क्षतिग्रस्त हृदय – NAJA TRIPUDIANS 30C ( दिन में तीन बार )

संगीत से चिंता – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

संगीत से पीठ दर्द – AMBRA GRISEA 3C (दिन में तीन बार)

संगीत से सिर मे जमाव – AMBRA GRISEA 3C (दिन में तीन बार)

संदंश प्रसव के बाद गर्भाशय का बहार को आना – SECALE CORNUTUM (CLAVICEPS PURPUREA) 30C ( दिन में तीन बार )

संदंश प्रसव के बाद जच्चा मे शिराप्रदाह – ALLIUM CEPA 3C (दिन में तीन बार)

संरचनात्मक रोग से पीलिया – HYDRASTIS CANADENSIS (HYDRASTIS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

सनस्ट्रोक के पुराने प्रभाव – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

सपने के बाद कमजोरी – CALCAREA SULPHURICA 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

सपने देखने के बाद गुस्सा होना – MURIATICUM ACIDUM 3C (दिन में तीन बार)

सबऑक्सीडेशन से हरिद्रोग – PICRICUM ACIDUM 6C (दिन में तीन बार)

समुद्र स्नान के बाद कमजोरी – MAGNESIUM MURIATICUM (MAGNESIA MURIATICA) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

समुद्री हवा से खांसी – CUPRUM METALLICUM 30C ( दिन में तीन बार )

सर्जरी के बाद कब्ज – OPIUM (PAPAVER SOMNIFERUM) 30C ( दिन में तीन बार )

सर्जिकल ऑपरेशन के बाद झटका – STRONTIUM CARBONICUM (STRONTIA) 6X (दिन में तीन बार)

सर्जिकल ऑपरेशन के बाद मूत्र त्यागना – CAUSTICUM 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

सहवास की रुकावट से बीमारियाँ – BELLIS PERENNIS Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

सिफिलिटिक सिर का चक्कर – AURUM MURIATICUM NATRONATUM 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

सिर की चोट से हिचकी – HYOSCYAMUS NIGER (HYOSCYAMUS) 30C ( दिन में तीन बार )

सिर पर चोट लगने के बाद भ्रम – NATRIUM SULPHURICUM (NATRUM SULPHURICUM) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

सिरका के बाद दस्त – ANTIMONIUM CRUDUM 6C (दिन में तीन बार)

सिलाई से आँख का तनाव – ARGENTUM NITRICUM 30C ( दिन में तीन बार )

सुख से कमजोरी – CROTON TIGLIUM 30C ( दिन में तीन बार )

सूअर का मांस के बाद दमा – NATRIUM CARBONICUM (NATRUM CARBONICUM) 6C (दिन में तीन बार)

सूजन से नाक बाधा होना – CADMIUM SULPHURATUM 30C ( दिन में तीन बार )

सूजाक के बाद मूत्रमार्ग का सख्त होना – SULPHUR 200C ( हफ्ते में एक बार )

सूजाक के बाद मूत्रमार्ग से रक्तस्राव – PULSATILLA PRATENSIS (PULSATILLA) 12X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

सूप के बाद की चिंता – MAGNESIUM CARBONICUM (MAGNESIA CARBONICA) 30C ( दिन में तीन बार )

सूर्य से दाने – NATRIUM MURIATICUM (NATRUM MURIATICUM) 30C ( दिन में तीन बार )

सेक्स के बाद खुजली – AGARICUS MUSCARIUS (AGARICUS MUSCARIUS-AMANITA) 30C ( दिन में तीन बार )

सेक्स के बाद भूख कम लगना – AGARICUS MUSCARIUS (AGARICUS MUSCARIUS-AMANITA) 30C ( दिन में तीन बार )

सेप्टिक उत्पत्ति की शिकायत – PYROGENIUM 30C ( दिन में तीन बार )

सौंदर्य प्रसाधन के उपयोग से मुँहासे – BOVISTA LYCOPERDON (BOVISTA) 6C (दिन में तीन बार)

स्ट्रोक के बाद दृष्‍टिहीनता – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

स्तनपान के दौरान दाने – SEPIA OFFICINALIS (SEPIA) 30C ( दिन में तीन बार )

स्थानीय रूप से टार के दुरुपयोग से शिकायतें – BOVISTA LYCOPERDON (BOVISTA) 6C (दिन में तीन बार)

स्पाइनल स्क्लेरोसिस से पेशी क्षय – PLUMBUM METALLICUM Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

स्प्रिटस शराब के बाद Urticaria – CHLORUM 6C (दिन में तीन बार)

हर कोल्ड ब्रोंकाइटिस उत्त्पन्न करता है – MANGANUM ACETICUM 30C ( दिन में तीन बार )

हर ठंड के बाद नाक में रुकावट – SILICEA TERRA (SILICEA) 6C (दिन में तीन बार)

हर मौसम के बदलाव से बुखार – MYRTUS COMMUNIS 3C (दिन में तीन बार)

हस्तमैथुन के बाद आँखों में दर्द – CINA MARITIMA (CINA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

हस्तमैथुन से कमजोर दृष्टि – CINA MARITIMA (CINA) 3X (चार चार गोली दिन में तीन बार)

हस्तमैथुन से दृष्‍टिहीनता – GELSEMIUM SEMPERVIRENS (GELSEMIUM) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

हस्तमैथुन से लम्बागो – NUX VOMICA 30C ( दिन में तीन बार )

हृदय में ध्वनियों से अनिद्रा – X-RAY 30C ( दिन में तीन बार )

हृदय रोग से बढ़े हुए जिगर – DIGITALIS PURPUREA (DIGITALIS) Q (दस दस बूंदे दिन में तीन बार)

10,409 thoughts on “Homeopathy for causation symptoms”